Tuesday, 27 Okt, 2020 03:38:47

कारगिल युद्ध में शहीद वीर दुर्वासा निषाद की 20वीं पुण्यतिथि के स्मृति में स्कूली बच्चों का लेखन सामाग्री वितरण कार्यक्रम

Khabar Nishad Bandhu | 2018/09/03 02:12:56 VM.

घोटिया : दिनाँक 02 सितम्बर 2018 दिन रविवार बालोद जिला के वनांचल ग्राम  घोटिया के स्कूल प्रांगण में क्षेत्रीय समिति घोटिया व  निषाद बंधू परिवार रायपुर के संयुक्त तत्वावधान में शहीद दुर्वासा निषाद के स्मृति में प्राथमिक स्कूल के 300 बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में प्रोत्साहन स्वरूप लेखन सामाग्री वितरण किया गया । कार्यक्रम की शुरूवात मुख्यतिथि श्री नेहरुराम निषाद प्रदेश अध्यक्ष छ ग निषाद(केवट)  समाज, श्री काशीराम निषाद दल्लीराजहरा नगर पालिका अध्यक्ष, ग्राम सरपंच श्रीमती मंडावी, श्री बी एल निषाद प्रधान पाठक, श्री तीरथ निषाद क्षेत्रीय अध्यक्ष,श्री सुखराम निषाद पूर्व बालोद जिला अध्यक्ष, श्री गोपी निषाद सहित उपस्थित अतिथिजनो द्वारा पूजा अर्चना कर कार्यक्रम को गति प्रदान किये । तदुपरांत मुख्यतिथि श्री नेहरुराम निषाद जी ने उपस्थित जन समूह को संबोधित करते हुए समाज एवं राष्ट्र के सर्वांगीण विकास हेतु शिक्षा को  सर्वोपरी बताया । एवं श्री काशीराम जी व् श्री सुखराम निषाद जी ने भी अपने उद्बबोधन में शहीद दुर्वासा निषाद जी के शहादत को याद करते हुए बच्चों को राष्ट्र की रक्षा व् देशभक्ति की भावना को आत्मसात करने के लिए प्रेरित किया । 
सामाजिक समरसता को गति देते हुए प्रतिवर्ष की भाँति स्कूली बच्चों को अतिथियों द्वारा लेखन सामाग्री वितरण किया गया । इस अवसर पर कार्यक्रम को सफल बनाने में क्षेत्रीय समिति घोटिया के निषाद महिला पुरुष व् बच्चे बढ़ चढ़ कर भाग लिया साथ ही बड़ी संख्या में स्थानीय ग्रामीणजनो की उपस्थिति रही । कार्यक्रम का सफल संचालन शिक्षक श्री एम् आर  सर्पा जी द्वारा किया गया , और कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन श्री तीरथ निषाद जी द्वारा किया गया। सभी ने कार्यक्रम को सराहा । इस अवसर पर निषाद बंधू टीम से शशीकांत निषाद, राही जी, सीताराम निषाद, तुकाराम निषाद, आदित्य भक्त, संतोष निषाद, खीलेश निषाद, बुधारू निषाद, इतवारी निषाद, डॉ डोमार निषाद, धनंजय नाविक, राहुल निषाद, उदय निषाद, मदन निषाद, तिलक निषाद, किशोर नाविक, महावीर निषाद, ढालसिंह निषाद, देव निषाद, रूपलाल निषाद, चंद्रशेखर निषाद, चेतन निषाद, पुनाराम निषाद  की उपस्थिति रही, साथ साथ बालोद , दुर्ग, रायपुर , धमतरी व महासमुंद जिले के निषाद बंधूओ की बड़ी संख्या में उपस्थिति रही ।